जोधपुर / बिलाड़ा में तिहरा हत्याकांड: परिवार के खात्मे के इरादे से आए हत्यारे

thumbnail


जोधपुर। निकटवर्ती बिलाड़ा तहसील के जाटीवास गांव स्थित एक खेत में झझोंपे रहने वाले चौकीदार परिवार पर अर्द्धरात्रि में अज्ञात हमलवारों ने धावा बोला। यहां पर दंपती को मौत के घाट उतारने के साथ एक मासूम की भी निर्ममतापूर्वक हत्या कर डाली। दो बच्चे और भी घायल हुए है। जिन्हें इलाज के लिए बिलाड़ा अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। सूचना पर ग्रामीण पुलिस अधीक्षक सहित तमाम अधिकारी मौके पर पहुंचे है। डॉग स्वाक्वयड एवं एफएसएल टीम भी पहुंच गई है। घायल हुए बच्चे से पूछताछ में पता लगा कि हत्यारा एक व्यक्ति आया था। मगर पुलिस इसमें अभी श्योर नहीं हो पाई है। हत्यारों की संख्या दो या तीन हो सकती है। शव फिलहाल मौके पर ही पड़े है। 

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुनील के. पंवार ने बताया कि दोपहर में सूचना मिली कि बिलाड़ा के जाटीवास गांव स्थित एक खेत में रहने वाले 35 साल के जवरीलाल चौकीदार, उसकी पत्नी तोलादेवी और पुत्र विक्रम शव पड़ा है। इस पर बिलाड़ा थानाधिकारी मनीष देव आदि वहां पहुंचे। इस बीच दो वहां दो बच्चे घनश्याम व बच्ची सोना घायलावस्था में मिले। तब तत्काल उन्हें बिलाड़ा अस्पताल भेजा गया। इस बीच सूचना पाकर ग्रामीण पुलिस अधीक्षक राहुल बारहठ, एएसपी सुनील के. पंवार, उपधीक्षक हेमंत कुमार आदि वहां पहुंच गए। 

सामने से किए किसी धारदार हथियार से वार: 
एएसपी सुनील के. पंवार ने बताया कि इसमें हत्यारा एक होना मुश्किल लग रहा है। फिर भी पड़ताल की जा रही है। हत्यारों ने दंपती, उसके बच्चों को मौत के घाट उतारने के इरादे से यह हमला किया। सभी चेहरे, सीने और शरीर के ऊपरी हिस्सों पर किए गए है। इन्हें संभवत: नींद से उठने का मौका ही ना मिला हो। जबकि घनश्याम व बच्ची सोना बच गए है। जिन्हें उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। 

मौका ए हालात से प्रतीत होता है कि हत्यारों की संख्या दो या तीन हो सकती है। ऐसे में पुलिस इनके खेतों के रास्ते होकर भागने की संभावना मान रही है। इसके लिए डॉग स्क्वायड को बुलाने के साथ एफएसएल टीम भी बुलाई गई है। मृतक जवरीलाल कोयले बनाने का काम करता था। गांवों में ज्यादातर लोग बबूल का जलाकर कोयला बनाते है और बेचते है। इससे अपना गुजर बसर करते है। जवरीलाल चौकीदार भी यही काम करता था। 

पुलिस ने आरंभिक पड़ताल में लूटपाट से इंकार किया है। इसमें किसी बड़ी अदावत की बू आ रही है। हत्यारा जवरीलाल के परिवार को खत्म करने का इरादा रखता था। मगर किस्मत से सोना और घनश्याम बच गए है। पुलिस इनसे पूछताछ कर आगे कार्रवाई को बढ़ाने में जुटी है।

source

Back To Top

You have successfully subscribed to the newsletter

There was an error while trying to send your request. Please try again.

दैनिक समाचार will use the information you provide on this form to be in touch with you and to provide updates and marketing.