खेल की 5 बड़ी खबरें: नेहरा बोले- यूएई में आसान नहीं IPL का आयोजन और कोरोना के कारण अमेरिकी ओपन से हटे किर्गियोस

thumbnail

यूएई में आईपीएल के आयोजन पर बोले नेहरा- यह आसान नहीं होने वाला

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व तेज गेंदबाज आशीष नेहरा का मानना है कि कोरोना वायरस संकट के बीच संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन का आयोजन करना आसान काम नहीं होगा। भारत में कोरोना वायरस के कारण आईपीएल के 13वें संस्करण को यूएई स्थानांतरित कर दिया गया है, जिसकी शुरूआत 19 सितंबर से होनी है। इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर को बायो सिक्योर नियमों का उल्लंघन करने के मामले में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले गए दूसरे टेस्ट से प्रतिबंधित कर दिया गया था। नेहरा ने आर्चर का उदाहरण देते हुए कहा कि अधिकारियों का काम आसान बनाने का जिम्मा खिलाड़ियों पर होगा। नेहरा ने स्टार स्पोर्ट्स के क्रिकेट कनेक्टेड कार्यक्रम पर कहा, हम जोफ्रा आर्चर की एक घटना देख चुके हैं, ” इसलिए हमें उम्मीद है कि इस तरह की घटना नहीं होगी। यह एक शानदार सीरीज थी, जहां खिलाड़ी मैदान में ठहरे हुए थे। आप चाहे साउथैम्पटन की बात करें या फिर ओल्ड ट्रेफर्ड की, मैदान में होटल होते हैं।”

इसे भी पढ़ें-खेल की 5 बड़ी खबरें: हार्दिक ने ‘नन्हे पंड्या’ की तस्वीर की शेयर और TNPL 2020 फिर हुआ स्थगित

फोटो:IANS

कोरोना के कारण अमेरिकी ओपन से हटे किर्गियोस

आस्ट्रेलियाई टेनिस स्टार निक किर्गियोस ने कोरोना वायरस के कारण अमेरिकी ओपन से अपना नाम वापस ले लिया है। उन्होंने कहा कि उनका यह फैसला कोविड-19 के कारण जान गंवाने वाले सैकड़ों और हजारों अमेरिकियों के सम्मान में लिया गया फैसला है। किर्गियोस ने ट्विटर पर पोस्ट किए अपने वीडियो में कहा, “मैं इस साल अमेरिकी ओपन में नहीं खेलूंगा। मुझे हालांकि काफी दुख है। लेकिन मैं अपने साथी ऑस्ट्रेलियाई, जान गंवाने वाले सैकड़ों और हजारों अमेरिकी, आप सभी के लिए हट रहा हूं। यह मेरा फैसला है।” इससे पहले, पूर्व वल्र्ड नंबर-1 और आस्ट्रेलियाई महिला टेनिस खिलाड़ी एश्लेग बार्टी भी अमेरिकी ओपन टेनिस टूर्नामेंट से हट गई थीं। अमेरिका ओपन का आयोजन न्यूयार्क में 31 अगस्त से 13 सितंबर तक होना है।

फोटो:IANS

स्टअर्ट ब्रॉ बोले- पहले टेस्ट में हटाए जाने के बाद संन्यास की सोच रहा था

इंग्लैंड के अनुभवी तेज गेंदबाज स्टअर्ट ब्रॉ ने कहा है कि जब उन्हें वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले गए पहले टेस्ट मैच से बाहर किया गया था तब वह संन्यास के बारे में सोच रहे थे। इस मैच के बाद हालांकि ब्रॉड ने दोनों टेस्ट मैच खेले और तीसरे मैच में तो उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में अपने 500 विकेट भी पूरे किए। ऐसा करने वाले वह अपने देश के दूसरे गेंदबाज और विश्व के सातवें गेंदबाज बने। ब्रॉड ने रविवार को डेली मेल के हवाले से लिखा, “क्या संन्यास की बातें मेरे दिमाग में चल रही थीं? हां 100 फीसदी। क्योंकि मैं काफी निराश था।” उन्होंने कहा, “मैं खेलने की उम्मीद कर रहा था जो खेल जगत में काफी खतरनाक चीज है, लेकिन मुझे लगा था कि मैं खेलने का हकदार था।” उन्होंने कहा, “जब बेन स्टोक्स ने मुझसे कहा कि मैं नहीं खेल रहा हूं तो मुझे लगा कि मेरे शरीर में झटके लग रहे हैं। मुझे बोलने में मुश्किल हो रही थी।”

फोटो:IANS

बार्सिलोना अध्यक्ष ने किया कोच का बचाव

स्पेन के फुटबाल क्लब बार्सिलोना के अध्यक्ष जोसेफ मारिया बाटरेमेयू ने आलोचनाओं से घिरे क्लब के कोच क्वीक्वे सेतियान का बचाव किया है और कहा है कि 61 साल के कोच अगले साल भी टीम के साथ रहेंगे। वहीं अध्यक्ष ने कहा कि क्लब के दिग्गज जावी को टीम के अगले कोच के रूप में देखा जा रहा है। स्पेनिश अखबार स्पोर्ट ने बाटरेमेयू के हवाले से लिखा है, “हमने जब उन्हें नियुक्त किया था तब हमने उनसे कहा था कि यह करार इस सीजन और अगले सीजन के लिए है।” उन्होंने कहा, “कुछ महीनों के प्रदर्शन के बूते किसी कोच का आंकलन करना, वो भी महामारी के इस मुश्किल समय में, सही नहीं है। अर्टुरो विडाल ने भी कहा था कि उन्हें और खिलाड़ियों को एक-दूसरे को समझने के लिए कम समय मिला था।”

फोटो:IANS

फुटबाल: आउबामेयांग के 2 गोल से आर्सेनल ने जीता 14वां एफए खिताब

आर्सेनल ने चेल्सी को 2-1 से मात देते हुए अपना 14वां एफए कप खिताब जीत लिया। वेम्ब्ले स्टेडियम में खेले गए मैच में कप्तान पिएर एमरिक आउबामेयांग ने दो गोल कर अपनी टीम को जीत दिलाई। कप्तान ने यह दो गोल तब किए जब टीम एक गोल से पीछे थी। क्रिस्टियान पुलिसिक ने पांचवें मिनट में गोल कर चेल्सी को 1-0 से आगे कर दिया था। चेल्सी की बराबरी हासिल करने की उम्मीदों को उस समय और झटका लग गया जब 73वें मिनट में माटेयो कोवाकिक को दूसरा पीला कार्ड मिला। उसने मैच का अंत नौ खिलाड़ियों के साथ किया क्योंकि प्रेडो को चोट के कारण स्ट्रेचर पर बाहर ले जाया गया। चेल्सी शुरुआत में हावी रही थी और पुलिसिक ने पांचवें मिनट में टीम को बढ़त दिला दी। वह एफए कप के फाइनल में गोल करने वाले पहले अमेरिकी खिलाड़ी भी बने।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

source
नवजीवन डेस्क

Back To Top

You have successfully subscribed to the newsletter

There was an error while trying to send your request. Please try again.

दैनिक समाचार will use the information you provide on this form to be in touch with you and to provide updates and marketing.