लद्दाख की ओर ड्रैगन ने तैनात किए बॉम्बर जेट

thumbnail

पेइचिंग/लद्दाख
एक ओर जहां चीन के नेता वास्तविक नियंत्रण रेखा पर भारत के साथ शांति और स्थिरता कायम करने का दावा कर रहे हैं, वहीं दूसरी ओर पीपल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) सीमा के पास ही अपनी ताकत बढ़ाती जा रही है। ताजा तस्वीरों में PLA की इस चाल की पोल खुली है। इनमें देखा जा सकता है कि सीमा पर चीन की PLA की एयरफोर्स काशगर एयरपोर्ट पर तैनात है।

ओपन इंटेलिजेंस सोर्स Detresfa की सैटलाइट इमेज में दिखाई दिया है कि एयरबेस पर रणनीतिक बॉम्बर और दूसरे असेट भी तैनात हैं। लद्दाख से यहां की दूरी को देखकर आशंका जताई गई है कि भारत से तनाव के चलते तैनाती की गई है। सैटलाइट तस्वीरों में दिखाया गया है कि इस बेस पर 6 शियान H-6 बॉम्बर हैं जिनमें से दो 2 पेलोड के साथ हैं। इनके अलावा 12 शियान Jh-7 फाइटर बॉम्बर हैं जिनमें से दो पर पेलोड हैं। वहीं, 4 शेनयान्ग J11/16 फाइटर प्लेन भी हैं जिनकी रेंज 3530 किलोमीटर है।

खतरनाक हैं H-6 बॉम्बर
ये बॉम्बर परमाणु हथियार ले जाने की क्षमता रखते हैं। लद्दाख से इस बेस की दूरी करीब 600 किमी है जबकि H-6 की रेंज 6000 किमी। खास बात यह है कि चीन ने H-6J और H-6G विमानों के साथ साउथ चाइना सी में भी ड्रिल की है। इस क्षेत्र में पहले से कायम तनाव के बीच चीन ने जिन जहाजों के साथ ड्रिल की है, वे H-6J सात YJ-12 सुपरसोनिक ऐंटी-शिप क्रूज मिसाइल ले जा सकते हैं जिनमें से 6 इसके पंखों के नीचे के लग सकते हैं। इस ड्रिल को रक्षा मंत्रालय ने रूटीन बताया और कहा कि इससे जंग के समय तैयार रहने का अभ्यास किया गया है।

चीन के पास हैं 250 शेनयान्ग
शेनयान्ग 2500 किमी प्रतिं घंटे की अधिकतम रफ्तार से उड़ान भर सकता है। वर्तमान समय में चीन के पास इस प्लेन के 250 से ज्यादा यूनिट मौजूद हैं। यह प्लेन रूस की एसयू 27 एसके का लाइसेंस वर्जन है। यह प्लेन हवाई क्षेत्र की रक्षा और जमीन पर हमला करने के मामले में सक्षम है। इस प्लेन में 30 मिलीमीटर की एक कैनन भी लगी हुई है। जबकि इसके 10 हार्ड प्वॉइंट पर कई तरह की मिसाइलें लगाई जा सकती हैं।

8 एयरबेस ऐक्टिवेट
इससे पहले यह खबर सामने आई थी कि चीन ने भारत से लगी सीमा के नजदीक कम से कम 8 एयरबेस या हेलीपैड को एक्टिवेट किया है जहां से वह अपनी युद्धक गतिविधियों को जारी रख सकता है। हाल में ही शिनजियांग प्रांत में स्थित होटान एयरबेस पर तैनात चीनी फाइटर जेट और अवाक्स प्लेन की सैटेलाइट तस्वीरें सामने आईं थीं। इस एयरपोर्ट पर जिन एयरक्राफ्ट की तैनाती की गई है उनमें शेनयांग जे-8 इंटरसेप्टर एयरक्राफ्ट और शेयनांग की फाल्कर शामिल हैं। इसके अलावा जिस अवाक्स को यहां तैनात किया गया है वह शनाक्सी वाई-8जी और केजे-500 हैं।

source

Back To Top

You have successfully subscribed to the newsletter

There was an error while trying to send your request. Please try again.

दैनिक समाचार will use the information you provide on this form to be in touch with you and to provide updates and marketing.